Dua E Ashura 10th Muharram Youm E Ashura Dua

Dua E Ashura

Bismillah-irrahman-irrahim
Ya Qaabil tawbati Adam Yawm Ashuraa
Ya faarija karbi Dhin-nuwni Yawm Ashuraa
Ya jaami’a shamli Ya’qoob Yawm Ashuraa
Ya saami’a daw’wati Moosaa wa Haaroon Yawm Ashuraa
Ya mugheeth Ibraaheem minan-naari Yawm Ashuraa
Ya raafi’a Idrees ilassamaa-i Yawm Ashuraa
Ya mujeeb daw’ati Saalehin finnaaqati Yawm Ashuraa
Ya naasir sayyidinaa Muhammad sallallahu ‘alayhi wa sallama Yawm Ashuraa
Ya rahmaan ad-dunya wal-aakhirati wa raheemahumaa Salli ‘alaa sayyidinaa Muhammadin wa ‘alaa aali sayyidinaa Muhammadin wa salli ‘alaa jamee’il-ambiyaa-i wal-mursaleen Waqdi haajatinaa fid-dunya wal-aakhirati wa atil ‘umaranaa fee taa’atik wa mahabbatika wa ridaak Wa ahyinaa hayaatan tayyibatan wa tawaffanaa ‘alal-eemaani wal-islaami bi rahmatika ya araham ar-raahimeen. Allaahumma bi ‘izzil-hasani wa akhi wa ummihi wa abeehi wa jaddihi wa baneehi Farrij ‘annaa maa nahnu feehi.

After reading the above dua, read the following dua 7 times
SubhaanAllaahi mil-al-mizaani wa muntahaal-‘ilmi wa mablaghal-ridaa wa zinatal-‘arshi laa maljaa-a wa laa manjaa-a minAllaahi illaa ilayh. Subhaan Allaahi’adadash-shaf’i wal watri, wa ‘adada kalimaati-llaahit-taammati kullihaa. Nas’alukas-Salaamata bi-Rahmatika ya Arham ar-Raahimeen Wa Huwa hasbunaa wa ni’mal-wakeel — ni’mal mawlaa wa ni’man-naseer Wa laa hawla wa laa quwwata illaa billahil-‘aliyyil-‘adheem Wa sall-Allaahu ta’aalaa ‘alaa sayyidinaa Muhammadin wa ‘alaa aalihi wa sahbihi wa ‘alaal-mumineen wal-muminaati wal-muslimeen wal-uslimaati ‘adada dharraatil-wujood wa ‘adada ma’loomaati-llaahi wal-hamduli-llaahi rabbil-‘aalameen.

Listen Dua e Ashoora audio

Share This

दुआए आशूरा – १० मुहर्रम

हजरत जैनुल आबेदीन रदिअल्लाहु अन्हु से रिवायत है की जो मुसलमान आशूरा के दिन यानि १० मुहर्रम को सूरज निकलने से लेकर सूरज ढलने तक सच्चे दिलसे दुआए आशूरा पढ़ेगा वह पुरे साल मौत के सदमेँसे इन्शाअल्लाह महफूज़ रहेगा और अगर मौत आनिहि है तो अजीब इत्तेफाक है उस साल दुआए आशूरा पढ़नेकी तौफीक न होगी|

दुआए आशूरा

बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम
या काबील तौबती आदम यौम आशूरा
​या फारीझा कर्बी जिन्नुनी ​यौम आशूरा
​या झामिअ शम्ली याकूब यौम आशूरा
​या सामिअ दअवती मुसा व हारुन यौम आशूरा
या मुगीस इब्राहिम मिनन्नारी यौम आशूरा
या राफेअ इद्रीस इलस्समाइ ​यौम आशूरा
​या मुजीब ​दअवती सालिहीन फिन्नाकती यौम आशूरा
या नासिर सैयदना मुहम्मदिन सल्लल्लाहु अलय्ही वसल्लम यौम आशूरा
या रेहमानद-दुनिया वल आखिरति वरहीमहुमा सल्लिअला सैयदीना मुहम्मदींव – वअला आली सैयदीना मुहम्मदींव वसल्लि अला झमीइल अमबीयाइ वल मुरसलीन वाकदी हजतिना फीद-दुनिया वल आखिरति व अतिल उमरना फीताअतीक व महब्बतीक वरिदाक वअहयिना हयातन तय्यीबतंव वतवफफना अलल इमानि वल इस्लामी बिरहमतिक या अरहमर्राहीमीन। अल्लाहुम्म बीइज़्ज़िल हसनी वअखीही व उम्मीही व अबीही वजद्दीही वबनीही फर्रिज अन्ना मानहनु फ़ीहि।

​फिर सात बार ये दुआ पढ़े
​​सुब्हानल्लाहि मिल्अल्मीजानी व मुनतहल्इल्मी वल्मब्लगर्रीदा वज़ीनतल अर्शी लामल्जाअ वला मन्जाअ मिनल्लाहि इल्ला इलैह। सुब्हानल्लाहि अदद श्शफइ वलवतरी व अदद कलिमा तिल्लाहीताम्माति कुल्लीहा नस्अलुकस्सलामत बिरहमतिक या अर्हमर्राहिमिन। वहुव हस्बुना व निअमल वकील। निअमल मौला व निअमन्नसीर। वाल हौल वला कुव्वत इल्ला बिल्लाहिल अलिय्यिल अज़ीम। व सल्लल्लाहु तआला अला सैयदीना मुहम्मदींव व अला आलीही व सहबीही व अलल मुअमीनिन वलमुअमिनाती वलमुस्लिमिन वलमुस्लिमाती अदद ज़र्रातिलवुजूदि व अदद मअलुमातिल्लाही रब्बिल आलमीन।

Listen Dua e Ashoora audio

Share This

कर्बला के बहत्तर शहीदों के नाम व मुखतसर तआरुफ़

Holy Shrine of Imam Hussein - कर्बला के बहत्तर शहीदों के नाम

Names of 72 Martyrs of Karbala and Biography of Hazrat Imam Hussain (Radiallahu ta’ala Anhu)

1. जनाबे मुस्लिम बिन औसजा – रसूल अकरम (स॰अ॰व॰व॰) के सहाबी थे
2. जनाबे अब्दुल्लाह बिन ओमैर कल्बी – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
3. जनाबे वहब – इन्होंने इस्लाम क़बूल किया था, करबला में इमाम हुसैन (अ॰स॰) की नुसरत में शहीद हुए
4. जनाबे बोरैर इब्ने खोज़ैर हमदानी – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
5. मन्जह इब्ने सहम – इमाम हुसैन (अ॰स॰) की कनीज़ हुसैनिया के बत्न से थे
6. उमर बिन ख़ालिद – कूफ़ा के रहने वाले और सच्चे मोहिब्बे अहलेबैत (अ॰स॰) थे
7. यज़ीद बिन ज़ेयाद अबू शाताए किन्दी – कूफ़ा के रहने वाले थे
8. मजमा इब्ने अब्दुल्ला मज़जही – अली (अ॰स॰) के सहाबी थे, यह जंगे सिफ़्फीन में भी शरीक थे।
9. जनादा बिन हारिसे सलमानी – कूफ़ा के मशहूर शिया थे, यह हज़रते मुस्लिम के साथ जेहाद में भी शरीक थे।
10. जन्दब बिन हजर किन्दी – कूफ़ा के मश्हूर शिया व हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे।
11. ओमय्या बिन साद ताई – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे।
12. जब्ला बिन अली शैबानी – कूफ़ा के बाशिन्दे और हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे, करबला में हमल-ए-ऊला में शहीद हुए।
13. जनादा बिन क़ाब बिन हारिस अंसारी ख़ज़रजी – मक्का से अपने कुन्बे के साथ करबला आए और हमल-ए-ऊला में शहीद हुए।
14. हारिस बिन इमरउल क़ैस किन्दी – करबला में उमरे साद की फ़ौज के साथ आए थे लेकिन इमाम हुसैन (अ॰स॰) के साथ शामिल होकर शहीद हुए
15. हारिस बिन नैहान – हज़रते हमज़ा के ग़ुलाम नैहान के बेटे और हज़रते अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
16. हब्शा बिन क़ैस नहमी – आलिमे दीन थे, हमल-ए-ऊला में शहीद हुए
17. हल्लास बिन अम्रे अज़्दी – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
18. ज़ाहिर बिन अम्रे सल्मी किन्दी – रसूल अकरम (स॰अ॰व॰व॰) के सहाबी और हदीस के रावी थे
19. स्वार बिन अबी ओमेर नहमी – हदीस के रावी थे, हमल-ए-ऊला में शहीद हुए
20. शबीब बिन अब्दुल्लाह – हारिस बिन सोरैय के ग़ुलाम थे, हज़रत अली (अ॰स॰) और रसूल अकरम (स.अ.व.व.) के सहाबी थे
21. शबीब बिन अब्दुल्लाह नहशली – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
22. अब्दुर्रहमान बिन अब्दे रब अन्सारी ख़ज़रजी – रसूल अकरम (स॰अ॰व॰व॰) के सहाबी थे
23. अब्दुर्रहमान बिन अब्दुल्लाह बिन कदन अरहबी – जनाबे मुस्लिम के साथ कूफ़ा पहुँचे किसी तरह बचकर करबला पहुँचे और हमल-ए-ऊला में शहीद हुए
24. अम्मार बिन अबी सलामा दालानी – रसूल अकरम (स॰अ॰व॰व॰) और हज़रत अली (अ॰स॰) के साथ भी शरीक थे। करबला में हमल-ए-ऊला में शहीद हुए
25. क़ासित बिन ज़ोहैर तग़लबी – यह और इनके दो भाई हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
26. कुरदूस बिन ज़ोहैर बिन हारिस तग़लबी – क़ासित इब्ने ज़ोहैर के भाई और हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
27. मसऊद बिन हज्जाज तैमी – उमरे साद की फ़ौज में शामिल होकर करबला पहुँचे लेकिन इमाम हुसैन (अ॰स॰) की नुसरत में शहीद हुए
28. मुस्लिम बिन कसीर सदफ़ी अज़्दी – जंगे जमल में हज़रत अली (अ॰स॰) के साथ थे, करबला में हमला-ए-ऊला में शहीद हुए
29. मुस्कित बिन ज़ोहैर तग़लबी – करबला में हमला-ए-ऊला में शहीद हुए
30. कनाना बिन अतीक़ तग़लबी – करबला में हमला-ए-ऊला में शहीद हुए
31. नोमान बिन अम्रे अज़दी – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे, हमला-ए-ऊला में शहीद हुए
32. नईम बिन अजलान अन्सारी – हमला-ए-ऊला में शहीद हुए
33. अम्र बिन जनादा बिन काब ख़ज़रजी – करबला में बाप की शहादत के बाद माँ के हुक्म से शहीद हुए
34. हबीब इब्ने मज़ाहिर असदी – हज़रत रसूल अकरम (स॰अ॰व॰व॰) के सहाबी, हज़रत अली (अ॰स॰), हज़रत इमामे हसन (अ॰स॰) के सहाबी थे, इमामे हुसैन (अ॰स॰) के बचपन के दोस्त थे और करबला में शहीद हुए
35. मोसय्यब बिन यज़ीद रेयाही – हज़रत हुर के भाई थे
36. हुज़्र बिन हुर यज़ीद रेयाही – जनाबे हुर के बेटे थे
37. जनाबे हुर बिन यज़ीद रेयाही – यज़ीदी फ़ौज के सरदार थे, बाद में इमामे हुसैन (अ॰स॰) की ख़िदमत में हाज़िर होकर शहादत का शरफ़ हासिल किया
38. अबू समामा सायदी – आशूर के दिन नमाज़े ज़ोहर के एहतेमाम में दुश्मनों के तीर से शहीद हुए
39. सईद बिन अब्दुल्लाह हनफ़ी – ये भी नमाज़े ज़ोहर एहतेमाम में दुश्मनों के तीर से शहीद हुए
40. ज़ोहैर बिन क़ैन बोजिल्ली – ये भी नमाज़ ज़ोहर में ज़ख़्मी होकर जंग में शहीद हुए
41. उमर बिन करज़ाह बिन काब अंसारी – ये भी नमाज़े ज़ोहर में शहीद हुए
42. नाफ़े बिन हेलाल हम्बली – नमाज़े ज़ोहर की हिफ़ाज़त में जंग की और बाद में शिम्र के हाथों शहीद हुए
43. शौज़ब बिन अब्दुल्लाह – मुस्लिम इब्ने अक़ील का ख़त लेकर कर्बला पहुँचे और शहीद हुए
44. आबिस बिन अबी शबीब शकरी – हज़रत इमाम अली (अ॰स॰) के सहाबी थे, रोज़े आशूरा कर्बला में शहीद हुए
45. हन्ज़ला बिन असअद शबामी – रोज़े आशूर ज़ोहर के बाद जंग की और शहीद हुए
46. जौन ग़ुलामे अबूज़र ग़ेफ़ारी – हब्शी थे, हज़रत अबूज़र ग़ेफ़ारी के ग़ुलाम थे
47. ग़ुलामे तुर्की – हज़रत इमामे हुसैन (अ॰स॰) के ग़ुलाम थे, इमाम ने अपने फ़रज़न्द हज़रत इमामे ज़ैनुल आब्दीन (अ॰स॰) के नाम हिबा कर दिया था
48. अनस बिन हारिस असदी – बहुत बूढ़े थे, बड़े एहतेमाम के साथ शहादत नोश फ़रमाई
49. हज्जाज बिन मसरूक़ जाफ़ी – मक्के से साथ हुए और वहीं से मोअज़्ज़िन का फ़र्ज़ अंजाम दिया
50. ज़ेयाद बिन ओरैब हमदानी – इनके वालिद हज़रत रसूल अकरम (स॰अ॰व॰व॰) के सहाबी थे
51. अम्र बिन जन्दब हज़मी – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
52. साद बिन हारिस – हज़रत अली (अ॰स॰) ग़ुलाम थे
53. यज़ीद बिन मग़फल – हज़रत अली (अ॰स॰) के सहाबी थे
54. सोवैद बिन अम्र ख़सअमी – बूढ़े थे, करबला में इमाम हुसैन (अ॰स॰) के तमाम सहाबियों में सबसे आख़िर में जंग में ज़ख्मी हुए थे। होश में आने पर इमाम हुसैन (अ॰स॰) की शहादत की ख़बर सुन कर फिर जंग की और शहीद हुए
बनी हाशिम यानी आले अबू तालिब (अ॰स॰) के शोहदा
55. हज़रत अब्दुल्लाह – जनाबे मुस्लिम के बेटे और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पोते
56. हज़रत मोहम्मद – जनाबे मुस्लिम के बेटे और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पोते
57. हज़रत जाफ़र – हज़रत अक़ील के बेटे और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पोते
58. हज़रत अब्दुर्रहमान – हज़रत अक़ील के बेटे और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पोते
59. हज़रत मोहम्मद – हज़रत अक़ील के पोते और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पर पोते
60. हज़रत मोहम्मद – अब्दुल्ला के बेटे, जाफ़र के पोते और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पर पोते
61. हज़रत औन – अब्दुल्ला के बेटे जाफ़र के पोते और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पर पोते
62. जनाबे क़ासिम – हज़रत इमाम हसन (अ॰स॰) के बेटे, हज़रत इमाम अली (अ॰स॰) के पोते और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पर पोते
63. हज़रत अबू बक्र – हज़रत इमामे हसन (अ॰स॰) के बेटे, हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के पोते और जनाबे अबू तालिब (अ॰स॰) के पर पोते
64. हज़रत मोहम्मद – हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के बेटे और जनाबे अबु तालिब (अ॰स॰) के पोते
65. हज़रत अब्दुल्ला – हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के बेटे और जनाबे अबु तालिब (अ॰स॰) के पोते
66. हज़रत उसमान – हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के बेटे और जनाबे अबु तालिब (अ॰स॰) के पोते
67. हज़रत जाफ़र – हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के बेटे और जनाबे अबु तालिब (अ॰स॰) के पोते
68. हज़रत अब्बास – हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के बेटे और जनाबे अबु तालिब (अ॰स॰) के पोते
69. हज़रत अली अकबर – हज़रत इमामे हुसैन (अ॰स॰) के बेटे और हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के पोते
70. हज़रत अब्दुल्लाह – हज़रत इमामे हसन (अ॰स॰) के बेटे और हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के पोते
71. हज़रत अली असग़र – हज़रत इमामे हुसैन (अ॰स॰) के बेटे और हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) के पोते
72. हज़रत इमामे हुसैन (अ॰स॰) – हज़रत इमामे अली (अ॰स॰) बेटे और जनाबे अबु तालिब (अ॰स॰) के पोते और जनाबे मुहम्मद रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलयहि वसल्लम के नवासे।

Share This

Names of 72 Martyrs of Karbala and Biography of Hazrat Imam Hussain (Radiallahu ta’ala Anhu)

Roza e Imam Hussain

Names of 72 Martyrs of Karbala

कर्बला के बहत्तर शहीदों के नाम व मुखतसर तआरुफ़ – हिन्दीमें

1 Hazrat Imam Hussain I
2 Hazrat Abbas Bin Ali I
3 Hazrat Ali Akber Bin Hussain I
4 Hazrat Ali Asghar Bin Hussain I
5 Hazrat Abdullah Bin Ali I
6 Hazrat Jafer Bin Ali I
7 Hazrat Usman Bin Ali I
8 Hazrat Abu Baker Bin Ali I
9 Hazrat Abu Baker Bin Hasan Bin Ali I
10 Hazrat Qasim Bin Hasan Bin Ali I
11 Hazrat Abdullah Bin Hassan I
12 Hazrat Aun Bin Abdullah Bin Jafer I
13 Hazrat MUHAMMAD Bin Abdullah Bin Jafer I
14 Hazrat Abdullah Bin Muslim Bin Aqeel I
15 Hazrat MUHAMMAD Bin Muslim I
16 Hazrat MUHAMMAD Bin Saeed bin Aqeel I
17 Hazrat Abdul Rehman Bin Aqeel I
18 Hazrat Jafer Bin Aqeel I
19 Hazrat Uns Bin Hars Asadi I
20 Hazrat Habib Bin Mazahir Asadi I
21 Hazrat Muslim Bin Ausaja Asadi I
22 Hazrat Qais Bin Masher Asadi I
23 Hazrat Abu Samama Umru Bin Abdullah I
24 Hazrat Boreer Hamdani I
25 Hazrat Hanala Bin Asad I
26 Hazrat Abis Shakri I
27 Hazrat Abdul Rehman Rahbi I
28 Hazrat Saif Bin Hars I
29 Hazrat Amer Bin Abdullah Hamdani I
30 Hazrat Junada Bin Hars I
31 Hazrat Majma BinAbdullah I
32 Hazrat Nafey Bin Halal I
33 Hazrat Hajjaj Bin Masrooq (Moazzinof Kafla-e- Kerbala) I
34 Hazrat Umer Bin Qarza I
35 Hazrat Abdul Rehman Bin Abd-e-Rub I
36 Hazrat Junada Bin Kaab I
37 Hazrat Amer Bin Janada I
38 Hazrat Naeem Bin Ajlan I
39 Hazrat Saad Bin Hars I
40 Hazrat Zuhair Bin Qain I
41 Hazrat Salman Bin Mazarib I
42 Hazrat Saeed Bin Umer I
43 Hazrat Abdullah Bin Basheer I
44 Hazrat Yazid Bin Zaid Kandi I
45 Hazrat Harb Bin Umr-ul-Qais I
46 Hazrat Zaheer Bin Amer I
47 Hazrat Basheer Bin Amer I
48 Hazrat Abdullah Arwah Ghaffari I
49 Hazrat Jhon Ghulam Abu Zar Ghaffari I
50 Hazrat Abdullah Bin Ameer I
51 Hazrat Abdul Aala Bin Yazeed I
52 Hazrat Saleem Bin Ameer I
53 Hazrat Qasim Bin Habib I
54 Hazrat Zaid Bin Saleem I
55 Hazrat Noman Bin Umer I
56 Hazrat Yazeed Bin Sabeet I
57 Hazrat Amir Bin Muslim I
58 Hazrat Saif Bin Malik I
59 Hazrat Jabir Bin Hajjaji I
60 Hazrat Masood Bin Hajjaji I
61 Hazrat Abdul Rehman Bin Masood I
62 Hazrat Baker Bin Haee I
63 Hazrat Ammar Bin Hassan Tai I
64 Hazrat Zurghama Bin Malik I
65 Hazrat Kanana Bin Ateeq I
66 Hazrat Aqaba Bin Sult I
67 Hazrat Hur Bin Yazeed Tameemi I
68 Hazrat Aqaba Bin Sult I
69 Hazrat Habala Bin Ali Sheebani I
70 Hazrat Qanab Bin Umer I
71 Hazrat Abdullah Bin Yaqter I
72 Hazrat Ghulam-e-Turki I

Karbala

Biography of Hazrat Imam Hussain I

Name: Hazrat Imam Hussain I
Title: Sayyad-ush-Shohda (Chief of the Martyrs)
Kuniyat: Abu Abdillah
Father: Hazrat Imam Ali I
Mother: Bibi Fatema Zahra J
Birth: 3rd Shabaan 4 A.H. in Madina (Saudi Arabia)
Imamat: From 50 A.H. to 61 A.H.
Martyrdom: 10th Muharram 61 A.H. (October 10, 680 AD)
Buried in Karbala (Iraq)
Hazrat Imam Hussain I was the second son of Imam Ali I and Imam Hasan I was the first son of Imam Ali I. Hazrat Imam Hussain I is the third of our holy Imam, Imam Ali I is first and Imam Hasan I is second of our holy Imam.
When he was born the Holy Prophet Muhammad H came and recited Adhaan and Iqamah in his right and left ears respectively. After seven days of his birth the ceremony of Aqeeqa was performed and he was named hussain.
The Holy Prophet Muhammad H had kept the names of his grandsons Hasan and Hussain as commanded by Allah Rabb-ul Izzat. Prophet Harun S who was the brother of Prophet Musa S had two sons, Shabbar and Shabbir. The Arabic names Hasan and Hussain are similar to the jewish word Shabbar and Shabbir.

Holy Shrine of Imam Hussein

Share This
Subscribe

Get the latest posts delivered to your mailbox: