रमज़ानुल मुबारक की मखसूद दुआए

शहरीकी निय्यत नवयतो अन असुमो गदनलिल्लाहे तआला मीन फर्जे रमजान हाज़ा इफ्तारकी दुआ अल्लाहुम्मा लका सुमतो व बेका आमन्तो व अलयका तवक्कलतो व अला रिज़्क़ेका अफ्तरतो फतकब्बल मिन्नी सहेरी में पढ़नेकी दुआ या वसीअल मग फिरती असर से मग़रिब के बिच पढ़नेकी दुआ या वसीअल फ़ज़ली इग फिरली। पहले ​रोज़े से दसवें रोज़े तक पढ़नेकी दुआ … Read more रमज़ानुल मुबारक की मखसूद दुआए